Followers- From 17 May 2010.....'til today

Tuesday, October 26, 2010

चलो ढूँढे एक रुपया

 


















एक बार तीन दोस्तों ने किसी ढाबे पर खाना खाया । हर एक ने 10 रुपए दिए । इस तरह उन्होंने ढाबे वाले को 30 रुपए दिए । लेकिन उनका खाने का 'बिल' 25 रुपए बनता था। ढाबे वाले के पास पाँच (5)  का नोट नहीं था।इस लिए उस ने बराबर का हिसाब करने के लिए हर एक को 'एक-एक' (1) रुपया वापिस कर दिया और बाकी के दो (2)  रुपए उसने खुद रख लिए ।इस तरह उस दिन तीन दोस्तों को अपनी-अपनी जेब से केवल '9' रुपए 
खर्च करने पड़े ।
चलें अब थोड़ा हिसाब - किताब कर लें .....
एक आदमी ने दिए = 9 रुपए
तीन ने दिए = 9 + 9 + 9 =27 रुपए
ढाबे वाले ने रखे = 2 रुपए
कुल रकम = 27 + 2 = 29 रुपए
तो फिर बाकी बचता एक (1)  रुपया कहाँ गया ?

 हरदीप संधु

21 comments:

Udan Tashtari said...

एक रुपये कॉमन वेल्थ गेम में लग गये...वहाँ ऐसे ऐसे हजारों करोड़ एक एक रुपये लग गये जिनका कुछ अता पता नहीं है. :) और सब मस्त हैं कि १० रुपये का खाना ९ रुपये में मिल गया.

डॉ टी एस दराल said...

हा हा हा ! चक्कर में डाल दिया ।
वैसे तीनों ने मिलकर २७ ही तो दिए , यानि २ की टिप ।

सहज साहित्य said...

बहन हरदीप उनका वास्तविक बिल था -25 रुपये यानी प्रत्येक का 8 रुपया 33-3 पैसा । दिये गए 5 रुपये बकाया से तीनों को एक-एक रुपया वापस मिला । इस तरह 9 रुपया 33-3 पैसा अर्थात् 28 रुपये वास्तविक हुआ । दो रुपये दूकानदार ने रख लिये । हिसाब बराबर ।

संजय कुमार चौरसिया said...

main to bhai math main bahut kamjor hoon

aap hi bataden kisko kitne mile ya kinte lage

http://sanjaykuamr.blogspot.com/

संजय कुमार चौरसिया said...

main to bhai math main bahut kamjor hoon

aap hi bataden kisko kitne mile ya kinte lage

http://sanjaykuamr.blogspot.com/

सहज साहित्य said...

दूसरी तरह समझन हो तो 25 रुपये खाने के दिए 2 रुपये दूकानदार के पास रह गए और एक-एक रुपया (कुल 3 रुपये ) वापस मिल ही गए

Apanatva said...

bahutkhoob.......

हास्यफुहार said...

खदेरन से पूछना होगा।

Prem Farrukhabadi said...

30-3=27 correct
27/3=9 correct
27-2 =25 correct

25+ 2+3= 30 correct

27+2= 29 less 1 in 30 this verification is wrong in itself.This is created confusion.

Shekhar Suman said...

पता नहीं....यह तो गोनू झा बता सकते हैं...हा हा हा....आपको अपने ब्लॉग पर नहीं देखा बहुत दिनों से जरूर आएँ...

मेरे ब्लॉग पर इस बार अग्निपरीक्षा ....

एस.एम.मासूम said...

Udan Tashtari@ बेहतरीन जवाब
"एक रुपये कॉमन वेल्थ गेम में लग गये...वहाँ ऐसे ऐसे हजारों करोड़ एक एक रुपये लग गये जिनका कुछ अता पता नहीं है. :) और सब मस्त हैं कि १० रुपये का खाना ९ रुपये में मिल गया. "

kshama said...

Hisaab ke mamale me zero hun!"Sahaj sahity' ne jo kaha wahi theek lagta hai!

राकेश कौशिक said...

कहते हैं लक्ष्मी एक जगह नहीं टिकती - कहीं से आई कही गई होगी. बचपन याद दिलाने के लिए धन्यवाद्

मनोज कुमार said...

टिप में भी तो क्छ देना पड़ता है। बहुत अच्छी प्रस्तुति। हार्दिक शुभकामनाएं और बधाई!
राजभाषा हिन्दी पर - कविताओं में प्रतीक शब्दों में नए सूक्ष्म अर्थ भरता है!
मनोज पर देसिल बयना - जाके बलम विदेसी वाके सिंगार कैसी ?

arvind said...

mujhe lagta hai sahajji ka javaab sahi hai....vaise 30 me se 29 ke hisaab mil rahe hain kya problem hai...yahaan to 30 me se 30 gaayeb ho jaate hain pataa nahi chalta...aapne sabhi desho ke corruption list me india kaa position nahi dekha kyaa...ha ha ha....achhi prastuti.

मेरठ न्यूज़ said...

आपके एक रूपये के साथ और पता नहीं कितनो के एक-एक रूपये को इस देश के नेता खा गए

sada said...

बेहतरीन प्रस्‍तुति ।

संगीता स्वरुप ( गीत ) said...

हा हा ...खूब जोड़ा घटाया है ....जहाँ घटना चाहिए वहाँ जोड़ दिया ...

३० रुपये में से तीन वापस ..यानि २७ रुपये दिए गए ...२५ का खाना और २ रुपये ढाबे वाले के पास ..तो २७ रुपये बराबर ...सहज साहित्य जी ने पैसों का हिसाब भी बता दिया ..उस हिसाब से आप पूछेंगी की एक पैसा कहाँ गया ?

ਸੁਰਜੀਤ said...

Apne to confuse kar dia, pls tell us the correct answer.

Thank you.
Surjit.

ज़ाकिर अली ‘रजनीश’ said...

मेरा तो दिमाग चकरा गया।

---------
सुनामी: प्रलय का दूसरा नाम।
चमत्‍कार दिखाऍं, एक लाख का इनाम पाऍं।

abhi said...

अरे यही वाला प्रश्न तो कहीं और भी पढ़ा था...उस समय भी दिमाग चकरा गया था और आज भी....:)

वैसे भी मैं मैथ में बहुत कमज़ोर बचपन से ही हूँ :)