Followers- From 17 May 2010.....'til today

Thursday, December 23, 2010

अनुभूति में मेरे हाइकु

अनुभूति में मेरे हाइकु

अनुभूति भारत की साहित्यक, सांस्कृतिक और दार्शनिक विचारधाराओं की रचनात्मक अंतर्राष्ट्रीय पत्रिका है ।  यह पत्रिका प्रत्येक सोमवार को प्रकाशित होती है। श्रीमति पूर्णिमा वर्मन जी इस की संपादक है अनुभूति के मासिक पाठक ३ लाख से भी ऊपर है ।
२० दिसम्बर २०१० को मेरे कुछ हाइकु इस पत्रिका में प्रकाशित हुए ।  यह मेरे लिए सौभाग्य की बात है।  मगर इस के लिए मैं श्री रामेश्वर कम्बोज हिमांशु जी का ह्रदय से धन्यवाद करना चाहती हूँ जिन के बताए मार्ग पर चलकर मैं इस काबिल बनी हूँ ! 
हरदीप कौर सन्धु ( बरनाला) 

8 comments:

Bhushan said...

बधाई और शुभकामनाएँ.

shikha kaushik said...

bahut-bahut badhai .happy new year 2011. aapka mere blog ''vikhyat 'par hardik swagat hai .

डॉ टी एस दराल said...

बहुत बढ़िया हाइकु प्रकाशित हुए हैं । बधाई एवम शुभकामनायें ।

सहज साहित्य said...

हरदीप जी , मैं आपकी संवेदना का कायल हूँ । भाषा और भाव पर आपकी गहरी पकड़ है । अनुभूति में प्रकाशन आपकी क़ाबलियत है । मुझे भी श्रेय दे रही हैं तो हृदय के आँचल में समेट ले रहा हूँ ।

ज्ञानचंद मर्मज्ञ said...

हरदीप जी,
यह जानकार बड़ी प्रसन्नता हुई कि अनुभूति में आपके हाइकु प्रकाशित हुए हैं !
कृपया मेरी बधाई एवं शुभकामनाएं स्वीकार करें !

-ज्ञानचंद मर्मज्ञ

दीनदयाल शर्मा said...

gazab...man ko choo gye ye hikoo...

दिगम्बर नासवा said...

बधाई और शुभकामनाएँ ...

निर्झर'नीर said...

u Deserve it ..bandhai swikaren