Followers- From 17 May 2010.....'til today

Wednesday, January 12, 2011

लोहरी (लोहड़ी)




punjabitab.com Orkut MySpace Hi5 Scrap Images


लोहरी की लख-लख बधाई!

लोहरी को पंजाब में लोहड़ी बोला जाता है ।
यह त्यौहार १३ जनवरी ( पौष माह का आखिरी दिन) को मनाया जाता है ।  

मकर सक्रांति की पूर्व संध्या पर पंजाब और हरियाणा प्रदेशों  में  बड़ी धूम-धाम से 'लोहड़ी '  का त्यौहार मनाया जाता है | 
यह पंजाबियों  का बहुत ही प्रिय त्यौहार है | लोहड़ी के कुछ दिन पहले से ही  छोटे-छोटे बच्चे "सुन्दर मुन्द्रिए  हो, तेरा कौन विचारा"  इत्यादी गाते हुए  उपले (पाथी) या लकड़ी इक्ठे करने लगते है | बच्चे कुछ ऐसा भी गाते हैं........... लोहड़ी के गीत ..........

सानू दे लोहड़ी
तेरी जीवे जोड़ी  
 दे माई पाथी
तेरा मुन्डा 
चढ़िया हाथी
हाथी हेठ कटोरा
तेरा पुत्त जंमुगा गोरा
गोरे ने खाधी टिक्की
तेरे पुत्त-पोतरे इक्की
इक्कीयाँ ने कीती कमाई
सानू टोकरा भरके पाईं ................
चार कु दाने खिल्लां दे
पाथी लैके हिल्लांगे !!!!

शाम  के समय आग जलाई जाती है | लोग अग्नि के चारों  ओर चक्कर काटते  है और तिल डालते हैं । आग के चारों  ओर बैठकर स्त्री, पुरुष और  बच्चे  आग सेंकते  है और  मूँगफली ,  रेवड़ी व मक्का के  खिल्ले  आदि बड़े  आनंद से खाते है | लोग एक दूसरे को लोहड़ी की बधाई देते है | घर में  वधु की पहली लोहड़ी और बच्चे  की पहली लोहड़ी बहुत अच्छे  ढंग  से मनाई जाती है | 

1.लोहड़ी आई
मूँगफली-रेवड़ी
जमके खाई !
 2.आई लोहड़ी
 आशायों के खिलते
फूल बसंती !
3.लोहड़ी आए
आलस्य सुस्ती हम
दूर भगाएँ !
4.लोहड़ी आई
निष्क्रियता की जड़
चूल्ले पाई !
5.लोहड़ी जले
सब यूँ हिलमिल
डालते तिल !
6.माघ जो चढ़े
लोहड़ी उपरान्त
ऋतु बदले !       

हरदीप कौर सन्धु
(बरनाला)  










 

17 comments:

कविता रावत said...

लोहड़ी जले
सब यूँ हिलमिल
डालते तिल !
माघ जो चढ़े
लोहड़ी उपरान्त
ऋतु बदले !
..बहुत सुन्दर प्रस्तुति
...आपको भी लोहरी की लख-लख बधाई!

यशवन्त माथुर said...

आप को भी सपरिवार लोहड़ी की हार्दिक बधाई.

सादर

डॉ टी एस दराल said...

सुन्दर हाइकु के साथ आपको भी लोहड़ी की बधाई ।
लोहड़ी के गीत याद कर अच्छा लगा ।

अरविन्द जांगिड said...

बधाई हो जी !

Bhushan said...

ਹੈਪ੍ਪੀ ਲੋਹਡ਼ੀ ਜੀ ਡਾ. ਸਾਹਬ. ਆਪਜੀ ਨੂੰ ਪਰਿਵਾਰ ਸਹਿਤ ਬਹੁਤ-ਬਹੁਤ ਵਧਾਈ. ਜੀਵਨ ਭਰ ਮੌਜਾੰ ਹੀ ਮੌਜਾੰ ਹੋਣ.

दीनदयाल शर्मा said...

लोहड़ी पर आपने आमंत्रित किया..इसके लिए आपका आभार..इच्छा तो बहुत होती है कि आपके वहां हम सारे आकर लोहड़ी मनाएं..लेकिन समय की नजाकत और व्यस्तताएँ इतनी कि बस पूछो मत...लोहड़ी की आप सबको हार्दिक बधाई. आमंत्रण के लिए आपका फिर से आभार...

ali said...

लोहड़ी की बधाइयां !

Surinder Ratti said...

Hardeep Ji,

Aapko bhi LOHRI KI LAKH LAKH BADHAAI

Surinder

kunwarji's said...

लोहड़ी और मकर सक्रांति कि शुभकामनाये स्विकार करे जी....

कुंवर जी

डॉ॰ मोनिका शर्मा said...

लोहड़ी की हार्दिक बधाई......

चैतन्य शर्मा said...

सक्रांति ...लोहड़ी और पोंगल....हमारे प्यारे-प्यारे त्योंहारों की शुभकामनायें......सादर

संजय भास्कर said...

लोहड़ी और मकर सक्रांति कि शुभकामनाये स्विकार करे जी..

संजय भास्कर said...

आपको मकर संक्रांति के पर्व की ढेरों शुभकामनाएँ !"

डॉ. नूतन डिमरी गैरोला- नीति said...

अच्छी पोस्ट है.. सुन्दर और जानकरी युक्त .. आज चर्चामंच पर आपकी पोस्ट है...धन्यवाद ...मकर संक्रांति पर बधाई

http://charchamanch.uchcharan.com/2011/01/blog-post_14.html

सहज साहित्य said...

लोहड़ी की बधाई मन को बहुत भाई।
स्वीकार करें आप भाई की बधाई !

: केवल राम : said...

सक्रांति ...लोहड़ी और पोंगल पर्व की ढेरों शुभकामनाएँ !"

Udayaveer Singh said...

प्रिय हरदीप जी ,
प्यार भरी सत श्री अकाल !
रब त्वानू मेहर बख्से . लोड़ी दी बधाई परवान करो /असी इक प्रोग्राम दे सिसिले विचों
पोर्ट- ब्लेयर आया हाँ ,तां खुशियाँ दे मौके नाल पुरे परवार नालों शामल होण दा मौका बख्सिश ना होया ,फेर भी परमात्मा चढ़दी कला विच रखे आप सबनू ,ढेर सारी खुशियाँ मुबारक /