Followers- From 17 May 2010.....'til today

Wednesday, April 13, 2011

वैशाखी पर्व


वैशाखी को पंजाब में बैसाखी भी कहते हैं | वैशाखी का नाम लेते ही मुझे धनीराम चात्रिक की कविता याद आने लगती है .....
तूड़ी तंद सांभ हाड़ी वेच वट के
लंबडा ते शाहा दा हिसाब कट के
मीहां दी उडीक ते सिआड़  कड के
मॉल धंदा साभने नू चुडा छडके
पग - झग्गा चादरा नवें सवाके
सम्मा वाली डांग नू तेल लाके
कच्छे मार वंझली आनद आ गया  
मारदा दमामे जट मेले आ गया !
वैशाखी पर्व की मेरी तरफ से सभी पाठकों को हार्दिक बधाई एवं शुभकामनाएँ !
आज मैं वैशाखी पर्व  पर कुछ हाइकु आपके लिए लेकर आई हूँ !

1.
वैशाखी पर्व
है खालसा पंथ का
जन्म दिवस !
2.
' सिंह' नामक
वैशाखी पर्व पर
मिली उपाधि !
3.
दिन वैशाखी
 जलियाँ वाला बाग
दर्दीला कांड !
4.
मोती हैं सजे
धानी- सी  चूनर में
ढोल हैं बजे !
5.
बिखरा सोना
धरती का  आँचल
स्वर्णिम हुआ !
6.
वैशाखी पर्व
फसल की कटाई
कृषि उत्सव !
7.
वैशाखी पर्व
होता है कौमी जश्न
पंजाबियों का !
8.
वैशाखी पर्व
संदेश हमें देता
खुशहाली का !
9.
वैशाखी मेला
पकी गेहूं बालियाँ
ख़ुशी की बेला !
10.
वैशाखी सुना
फिरकी सा थिरका 
तन व मन !
11.
बजता ढोल
वो ढम्म ढमा  ढम्म
वैशाखी का यूँ !
12.
धड़का दिल
भाँगड़ा और गिद्धा
हुए शामिल !

हरदीप कौर सन्धु
( बरनाला)

13 comments:

Udan Tashtari said...

बढ़िया,,,


बैसाखी की शुभकामनाएँ.

सहज साहित्य said...

भारतीय पर्वों और त्योहारों की दुनिया में कोई मिसाल नहीं । यहाँ हर दिन कुछ न कुछ रहता ही है । मौसम और फ़सलों से तो अपने सभी पर्व जुड़े हैं । उनके साथ कुछ ऐतिहासिक तथ्य जुड़कर उनको और यादगार बना देते हैं । यह जीवन जीने का आशावादी दृष्टिकोण है । डॉ हरदीप कौर सन्धु ज़मीनी हक़ीक़त से जुड़ी कवयित्री हैं। अपने हाइकुओं में इतिहास और सांस्कृतिक चेतना सभी को पिरो दिया है । आपकी कलम और आह्लादित करने वाली कल्पना को सलाम!

दर्शन कौर धनोए said...

डॉ. हरदीप संधू जी वैशाखी दी लख -लख बधाइयां होवे जी तुवाडे सारे परिवार नु भी ---

ज्ञानचंद मर्मज्ञ said...

बिखरा सोना
धरती का आँचल
स्वर्णिम हुआ !

वैशाखी पर विभिन्न रंगों से सजे हाइकू का ज़वाब नहीं!
बहुत ही सुन्दर लिखा है आपने !
वैशाखी की ढेरों बधाइयाँ और शुभकामनाएँ !
आभार

Dr (Miss) Sharad Singh said...

वैशाखी के हर पक्ष को अपनी कविता में बखूबी उतारा है आपने...
आपके हायकूज़ द जवाब नहीं....
आपको परिवार सहित वैशाखी की ढेरों बधाइयाँ और शुभकामनाएँ !

संगीता स्वरुप ( गीत ) said...

वैशाख पर्व की सारी खासियत बता दी ....

वैसाखी की शुभकामनायें

kshama said...

Bahut sundar!
Baisakhee kee dheron shubhkamnayen!

वन्दना said...

आपकी रचनात्मक ,खूबसूरत और भावमयी
प्रस्तुति भी कल के चर्चा मंच का आकर्षण बनी है
कल (14-4-2011) के चर्चा मंच पर अपनी पोस्ट
देखियेगा और अपने विचारों से चर्चामंच पर आकर
अवगत कराइयेगा और हमारा हौसला बढाइयेगा।

http://charchamanch.blogspot.com/

arvind said...

bahut badhiya post...baisakhi ki shubhakamanaayen.

डॉ. नूतन डिमरी गैरोला- नीति said...

बैसाखी की शुभकामना... कल आपकी बेहद सुन्दर पोस्ट चर्चामंच पर होगी वह आ कर अनुग्रहित करें ..आभार

वीना said...

वैशाखी पर बहुत-बहुत शुभकामनाएं...

अनामिका की सदायें ...... said...

apki hayiku se sabko vaishakhi ki visheshta pata chali. aabhar.sarthak hayiku.

anupama's sukrity ! said...

baisakhi par hardik shubhkamnayen.
bahut badhia post hai aapki .