Followers- From 17 May 2010.....'til today

Friday, June 17, 2011

मित्रता


Friends Forever images

1.
अनजाने में ही भला , यह हमसे क्या हुआ
दिल दुखाया आपका , तभी दर्द हमारे हुआ !

2.
दिल में है जो आज मेरे  , कह रही मेरी  कलम
मित्र बनकर आपके , कभी धोखा न देंगे हम !


3.
मित्रता को हम भी , हैं करते बहुत प्यार
परीक्षा लेना जब चाहो  , हम बैठे तैयार !

हरदीप    

8 comments:

Udan Tashtari said...

भाव अच्छे हैं.

udaya veer singh said...

बहुत सुन्दर भाव संवदनाओं के साथ .../ बधाई

दीनदयाल शर्मा said...

Respected dr hardeep sahiba. Friendship pr apki panktiyan behtreen lgi..congrats...Deendayal Sharma.

सहज साहित्य said...

हरदीप जी यह दुनिया आप जैसे अच्छे इंसानों के विश्वास पर ही चल रही है । उत्तीर्ण व्यक्तियों की कभी परीक्षा नहीं होती , क्योंकि वे जीवन की सारी परीक्षाएँ अपने पावन आचरण के बल पर पहले ही पास कर लेते हैं। आपकी यह कविता दिल और दिमाग दोनों को विशास की खुराक देती है और जिसके मन में कोई संशय है उसका निराकरण कर देती है ।

संगीता स्वरुप ( गीत ) said...

भाव युक्त दोहे

Dr (Miss) Sharad Singh said...

सुन्दर भावाभिव्यक्ति...

Dilbag Virk said...

ati sunder

Kailash C Sharma said...

बहुत सुन्दर और सार्थक भाव..